Reading

हम नही
हमारे पेगाम
सुनाते है
हम
आपको कितना
याद फरमाते है

कया ईतना सोचना जरुरि है की
जिंदगी मे हम से विश्वास रुठ गया

ए जिंदगी अब तु मुजे बता

अनमोल अमुल्य शब्द का कोई मोल रहा है

हाल ए दिल तु एक काम कर
तुने जहा से दिल चुराया उसे वापस देकार आजा

#DakshaSetaKapadiyaaa

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s